नाम की दौलत में छिपे हैं सभी सुख : निरंकारी वी.डी.नागपाल जी।

0
128

चण्डीगढ़, राधाजी न्यूज़, (पुनीत सैनी। दुनियां में हर इन्सान सुखी होने के लिए ज्यादा-से-ज्यादा दुनियावी धन-दौलत इकट्ठी करने हेतु सारी आयु भाग-दौड़ करता रहता है लेकिन वह सुखी फिर भी नहीं होता क्योंकि वास्तविक सुख धन-दौलत में नहीं बल्कि नाम की दौलत में छिपे हैं ये उद्गार आज यहां सैक्टर 30-ऐ में स्थित सन्त निरंकारी सत्संग भवन में हुए सत्संग में देहली से आए सन्त निरंकारी मण्डल के उप-प्रधान व सेवादल विभाग के मैम्बर इन्चार्ज श्री वी.डी.नागपाल जी ने सैकड़ों की संख्या में उपस्थित श्रद्धालुओं को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए।

श्री नागपाल जी ने आगे कहा कि अधिक धन इन्सान के लिए चिन्ता व दुख का कारण होता है इसीलिए धार्मिक ग्रन्थों में पिछले गुरू-पीर-पैगम्बरों द्वारा उसी इन्सान को वास्तव में धनवान व सुखी माना गया है जिसके पास नामरूपी धन हो जो केवल व केवल वर्तमान सत्गुरू की शरण में जाकर ही प्राप्त होता है । सत्गुरू माता सुदीक्षा जी महाराज द्वारा भी यही नाम धन न केवल भारत में बल्कि दुनियां के कोने-कोने में जाकर बिना किसी भेद-भाव के बांटा जा रहा है ।

इस अवसर पर स्थानीय संयोजक श्री नवनीत पाठक जी ने उप-प्रधान व सेवादल विभाग के मैम्बर इन्चार्ज श्री वी.डी.नागपाल जी का चण्डीगढ की सारी संगत की और से स्वागत व धन्यवाद किया और रोशन मिनार श्री एच.एस.कोहली ने अपने भाव व्यक्त किए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × two =