डाटा चोरी मामला : UBER भरेगा मोटा जुर्माना।

0
181

राधाजी न्यूज़। साल 2016 में उबर का डाटा चोरी होने के संबंध में कंपनी 148 मिलियन डॉलर का भुगतान करने को तैयार हो गई है। कैलिफोर्निया के अटॉर्नी जनरल के कार्यालय के अनुसार, उबर मामले को खत्म करने के लिए यह कदम उठाने जा रही है। उबर के सीईओ दारा खोसरोहाही ने एक बयान में कहा कि मिली जानकारी के अनुसार पिछले साल हैकर्स ने 5.7 करोड़ यूजर्स की जानकारी चुराई थी।
उबर ने हैकर्स को डाटा खारिज करने और इस मामले पर चुप्पी साधने के लिए 1 लाख डॉलर का भुगतान किया था। कैलिफोर्निया के अटॉर्नी जनरल जेवियर बेसेरा ने बताया कि उबर का इस मामले पर पर्दा डालना लोगों के विश्वास का उल्लंघन है। कंपनी यूजर के डाटा को सुरक्षित रखने में विफल रही और जब इसका पर्दाफाश हुआ तो अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई।
बेसेरा ने कहा कि उबर ने जानबूझकर कानून का उल्लंघन किया है। हैकर्स ने अमेरिका में लगभग 5 लाख ड्राइवरों के लाइसेंस नंबर, नामों सहित निजी सूचना चोरी की थी। इसमें यात्रियों के नाम ईमेल ऐड्रेस और मोबाइल नंबर भी शामिल हैं। उबर के मुख्य कानूनी अधिकारी टोनी वेस्ट ने एक बयान में कहा कि हम जानते हैं कि लोगों के विश्वास को फिर से कायम रखना कोई आसान काम नहीं है। हम अपने ग्राहकों की सुरक्षा बनाए रखने के लिए निवेश करते रहेंगे और उनके डाटा को सुरक्षित रखने के लिए हरसंभव प्रयास करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × 1 =