भारत-चीन सीमा विवाद पर भारत के राष्ट्रिय सुरक्षा सलाहकार डोवाल और चीनी विदेश मंत्री से मुलाकात की।

0
75

राधाजी न्यूज़। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोवाल और चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने चीन के दक्षिण पश्चिम सिचुआन प्रांत में सीमा मसले पर बातचीत की है। डोवाल और वांग दोनों भारत-चीन सीमा वार्ता के लिए विशेष प्रतिनिधि हैं। इस वर्ष की शुरुआत में स्टेट काउंसलर यांग जिची का स्थान लेने के बाद वांग की यह पहली वार्ता है। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने 21 नवंबर को वार्ता की घोषणा करते हुए कहा था, ‘हमने मतभेदों को बातचीत और सलाह के जरिए ठीक ढंग से संभाल लिया है। सभी सीमावर्ती क्षेत्रों में स्थिरता कायम है। इससे पहले इस विवाद पर 20 बार बातचीत हो चुकी है।

बता दें कि भारत और चीन के बीच की 3488 किलोमीटर लंबी वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर विवाद है। चीन अरूणाचल प्रदेश को दक्षिण तिब्बत का एक हिस्सा बताता है।

इससे पहले सीमा वार्ता दिल्ली में डोवाल और यांग के बीच हुई थी। यह वार्ता डोकलाम पर 73 दिन तक चली तनातनी की पृष्ठभूमि में हई थी। इसका समापन तब हुआ जब पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने वहां सड़क बनाने की अपनी योजना बंद की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen + 16 =