रवनीत के ‘लौंग गवाचा’ को अब तक 5 मिलियन से ज्यादा लोगों ने देखा।

0
56

चंडीगढ़, (पुनीत सैनी)। पंजाबी गायक, संगीतकार और एक बहुमुखी प्रतिभा संपन्न कलाकार, रवनीत सिंह, काला संघियां (जिला कपूरथला) से हैं, जिनके नवीनतम गीत ‘लौंग गवाचा ‘ को यूट्यूब पर भारी सफलता मिली है, जहां इस गाने को 54 लाख से अधिक लोग देख चुके हैं।

23-वर्षीय रवनीत ने कहा, ‘मैं शुरू से ही एक गायक बनना चाहता था, क्योंकि सिंगिंग मेरा जुनून है। हालांकि, लेकिन मेरे माता-पिता चाहते थे कि पहले मैं अपनी पढ़ाई पूरी करूं। इसलिए, मैंने पहले सिविल इंजीनियरिंग में बीटैक की डिग्री ली और फिर संगीत में अपना करियर बनाया।’

‘लौंग गवाचा ‘ को हाल ही में यूट्यूब पर 5 मिलियन से अधिक व्यूज मिले हैं। पंजाब के इस युवा गायक ने अब तक 11 सुरीले गीत गाये हैं।

रवनीत ने बताया, ‘जब मैंने पहली बार स्कूल में गाया था, तभी मुझे अहसास हो गया था कि यही वो चीज है जो मुझे आगे चलकर करनी है। मेरे पेरेंट्स ने मुझे एक हारमोनियम खरीद कर दिया। मैं अपने उस्ताद जी के साथ प्रेक्टिस करने लगा। मेरा परिवार संगीत को एक कैरियर के रूप में अपनाने के पक्ष में नहीं था, क्योंकि उनको लगता था कि यह इंडस्ट्री बहुत बड़ी है, और आगे की जर्नी कठिन होगी। हालांकि, अब वे मेरी प्रगति से संतुष्ट हैं।’

गायन, लेखन और संगीत रचना को जुनूनी हद तक चाहने वाले रवनीत ने विभिन्न यूथ फैस्टिवल्स में भाग लेना शुरू कर दिया। शास्त्रीय गायन, लोक संगीत और गज़लों जैसी विधाओं में भी हाथ आजमाया। उनके पसंदीदा गायकों में बब्बू मान, गुरदास मान, गुरु रंधावा और गुलाम अली खान उल्लेखनीय हैं।

टी-सीरीज के बैनर तले तैयार ‘लौंग गवाचा ‘ गाने में निर्देशन वी म्यूजिक का है, जो ‘लाहौर ‘ और ‘हाई रेटेड गबरू ‘ जैसी हिट फिल्मों के लिए मशहूर है।

भले ही रवनीत की बैकग्राउंड संगीत की नहीं है, फिर भी इस युवा गायक ने बहुत ही कम उम्र में संगीत कला में रुचि विकसित कर ली और हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत के माध्यम से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया।

स्कूल के कार्यक्रमों और प्रतियोगिताओं में परफॉर्मेंस देने के दौरान, रवनीत को धीरे-धीरे अपने दोस्तों से वाहवाही मिलने लगी। उस्ताद बड़े गुलाम अली खान, उस्ताद अमीर खान और भारत रत्न भीमसेन जोशी का शास्त्रीय गायन सुनकर बड़े हुए रवनीत को आगे चलकर बब्बू मान और गुरदास मान जैसे बड़े कलाकारों से प्रेरणा मिलने लगी।

एक अनुशासित पंजाबी परिवार से ताल्लुक रखने वाले इस कलाकार के पिता गुरदीप सिंह एक सरकारी कर्मचारी हैं, मां श्रीमती गुरिंदर कौर एक गृहिणी हैं और उनके एक छोटी बहन है। रवनीत ने ट्रैक ‘जट्टां वाले गाने ‘ के साथ पंजाबी इंडस्ट्री में अपना डेब्यू किया था, जिसके बाद उन्होंने ‘कॉलेज ‘ और ‘कूल लिप ‘ ट्रैक पेश किया। फिर ‘आई लाइक यू ‘ और ‘लव स्टोरी ‘ की रिलीज के साथ, रवनीत ने कई दिलों को टच किया। हालांकि, उन्हें सफलता का असली स्वाद मिला ‘रीजन्स ‘ और ‘तीली तीली ‘ ट्रैक्स से।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × four =